कान्हा तेरी मुरली || Kanha Teri Murli Lyrics || Krishn Bhajan Lyrics

0
365
कान्हा तेरी मुरली बजे,..(२)
दौड़ी दौड़ी आये गोपियाँ
कभी धुन सुन मस्ती चढ़े
कान्हा रे कान्हा रे कान्हा रे.
राधिका  तुमको  पुकारे,…
कान्हा  तेरी मुरली  बजे,..

मातायशोदा की अँखियोका तारा है
है  नन्द लाला तू सबका  दुलारा है
सबके  ये  दिलमे  रहे
कान्हा  तेरी मुरली  बजे,..

मटकी को फोडे तू सबको सताये रे
माखन चुराके तू सबको खिलाये रे
ओ लीला तेरी सबसे  पर
कान्हा  तेरी मुरली   बजे,..

तूने ही काली का अभिमान तोडा था
तूने ही अर्जुन की शंका को तोडा था
सारथि  ही   बनके    रहे
कान्हा  तेरी मुरली  बजे,..

सबका सहारा तू सबका सहाई है
गिरधारी तूने ही दुनिया बसाई है
ओ  हाथ  तेरा  सिर  पे  रहे
कान्हा  तेरी  मुरली   बजे,..

-राधाकृष्ण भजन,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here