वृंदावन धाम अपार || Vrindavan Dham Apar || Vrundavan Bhajan Lyrics

0
1317
वृंदावन धाम अपार जपे जा राधे राधे
राधा सब वेदन का सार जपे जा राधे राधे,

भजे  जा राधे राधे  जपे  जा राधे राधे
राधा अलबेली सरकार जपे जा राधे राधे
वृंदावन धाम अपार जपे जा राधे  राधे,..वृंदावन

जो राधा राधा गावे वो प्रेम पदारथ पावे
बाको है जाए बैढा पार जपे जा राधे राधे
वृंदावनमें राधेराधे यमुनातट पे राधेराधे,..वृंदावन

जो राधा नाम न हो रसराज बिचारो रोतो
नहीं होतो कृष्ण अवतार जपे जा राधे राधे
बंसीवटपे राधेराधे निधिवनजी में राधेराधे,..वृंदावन

ये वृंदावनकी लीला मात जानो गुड़ को चीला
यामे रिषिमुनि गये हार जापे जा राधेराधे
दानगली में राधेराधे मान गली में राधेराधे,..वृंदावन

वृंदावन रास रसायो शिव गोपी रूप बनायो
बंसीवट कियो बिहार   जपे जा राधे राधे
कुंजगली में राधेराधे बांके बिहारी राधेराधे,..वृंदावन

ये प्रेम अकद कहानी नाए समजे ज्ञानीध्यानी
ताहे जाने व्रज की नार जपे जा राधे राधे
प्राणवल्लभा राधेराधे गिरगोवर्धन राधेराधे,.वृंदावन

तू वृंदावन में आये तेने राधा नाम न गायो
तेरे जीवन को धिक्कार जपे जा राधे राधे
नंदगाव में राधे राधे बरसाने में राधे राधे,..वृंदावन

संतोकी प्यारी राधेराधे हमारीप्यारी राधेराधे,
श्याममिलादे राधेराधे श्याममिलादे राधेराधे,

-राधाकृष्ण भजन,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here